ओपन ओपन बीएफ

Image source,न्यू छोटा भीम

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू फिल्म एचडी मूवी: ओपन ओपन बीएफ, मेरा रिश्ता दो महीने पहले ही कैनेडा में रहने वाले युवक से हुआ है।सगाई की रस्म होने के बाद से हमारी कोई मुलाकात नहीं हुई लेकिन फोन और इन्टरनेट पर काफी बातचीत होती रहती है।पिछले कुछ समय से मुझे अपने मंगेतर पर शक सा होने लगा है।एक बार मैंने उन्हें फोन किया तो किसी लड़की ने फोन उठाया।मेरे पूछने पर उन्होंने कहा- यह मेड है.

हिंदी विलेज सेक्सी

इस तरह करते हुए मुझे 15 मिनट के ऊपर हो गए थे और सुनीता जी अपनी मस्ती में अपने चूचों को मसलवाने का मज़ा ले रही थीं और बड़बड़ा रही थीं, ‘ओर मसलो. चुंदड़ी जयपुर से मंगवा ई गानामुझे दीपक चाहिए बस।दीपाली- अच्छा एक बात तो बता तेरे दिमाग़ में ये ख्याल आया कैसे और दीपक ही क्यों और कोई भी तो हो सकता है.

तो चलो हम वहीं जाकर देखते हैं।सुधीर के घर में जाते ही प्रिया ने मुख्य दरवाजा बन्द कर दिया और दीपक से चिपक गई।उसने अपने होंठ उसके होंठों पर टिका दिए।दीपक भी उसका साथ देने लगा और उसकी गाण्ड को दबाते हुए उसे चुम्बन करने लगा।थोड़ी देर बाद दोनों अलग हुए।दीपक- मेरी प्यारी बहना. मारवाड़ी सेक्सी वीडियो छोटी बच्ची कालड़की की ‘आहें’ सुनकर और मामी के बड़े बोबे देख कर मैं तो मचल रहा था।मेरा लण्ड खड़ा हो गया और मामी की साँसें भी तेज हो गई थीं।उन्हें बहुत मज़ा आ रहा था।चुदाई की इच्छा बढ़ती जा रही थी.

मैं अभी सहला कर इसका दर्द मिटा दूँगी।दीपाली लौड़े को बड़े प्यार से सहलाने लगी और फूँक मारते-मारते उसने लौड़े को चूसना शुरू कर दिया।अनुजा- लो अब आपका सारा दर्द भाग जाएगा.ओपन ओपन बीएफ: बाबू जी, यह ग़लत बात है, हम लोग अभी घर पर नहीं… खेत पर हैं। आप घर पर चल कर कुछ भी कर लेना, बस अब इधर कुछ नहीं।’‘बहू यही एक बार.

वो मेरी तरफ घूमी और अपना हाथ मेरे अंडरवियर में घुसा कर मेरे फड़फड़ाते हुए लंड को इलास्टिक के ऊपर निकाल लिया।लंड को कस कर पकड़े हुए वो अपना हाथ लंड की जड़ तक ले गईं जिससे सुपारा बाहर आ गया।सुपारे की साइज़ और आकर देख कर वो बहुत हैरान हो गईं।मेरे प्यारे पाठको, मेरी भाभी का यह मदमस्त चुदाई ज्ञान की अविरल धारा अभी बह रही है।आप इसमें डुबकी लगाते रहिए.कोई किसी को छुएगा नहीं।ये आयडिया सुनकर सोनम भी बहुत खुश हो गई।अब हम दोनों नहाने के बाद बिना कपड़े पहने.

वीडियो में सेक्सी फिल्म दिखाइए - ओपन ओपन बीएफ

उसने मुझे अन्दर बुलाया।हम दोनों उसके कमरे में गए औऱ वो रसोई में गई और चाय बना कर लाई।हम दोनों चाय पीने लगे औऱ बातें करने लगे उसने मेरा फोन मांगा.मैं अभी आता हूँ और दीपाली वो पेपर ले आए तो उससे कहना कि बोर्ड पर उसमें लिखे सवाल लिख दे और सब कॉपी कर लेना.

अपनी नाइटी पहन कर आ गई।मैंने तब तक जमीन पर उसके बिस्तर का गद्दा निकाल कर सैट किया और जब वो आई तो मैंने उसकी नाइटी उतार दी।उसने केवल एक पतली सी चड्डी पहनी हुई थी।मैंने कहा- अगर आप बुरा न माने तो अभी चड्डी भी उतार दूँ… ये मालिश के लिए ठीक रहेगा।उसने झट से अपने हाथ से ही चड्डी को कमर से नीचे सरका दिया।उसके बाद मैंने चड्डी को खींच कर बाहर निकाल दिया।अर्चना की बुर उसकी झांट के बालों से ढकी थी.ओपन ओपन बीएफ कुछ देर बाद मैं नहाने जा रही थी तो उसने फिर पकड़ लिया।मैंने कहा- प्लीज़ नवीन मुझे जाने दो मुझे नहाना है।तो उसने कहा- जान यहीं नहा लो।लेकिन मैंने कहा- नहीं यार.

मुझे पूरा नंगे होकर नहाने की आदत है और मैं दरवाजे की सिटकनी बन्द करना भूल गया था।आंटी कुछ काम से आईं और दरवाजा खोल दिया.

टेप टेप टेप?

ओपन ओपन बीएफ पास की टेबल से मैंने क्रीम उठा कर उसकी चूत में भर दी और अपने लण्ड पर भी लगा ली।फिर धीरे से मैंने उसके छेद पर अपना सुपारा डाला तो वो चिहुंक गई.

इंग्लिश सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियो?ক্সক্সক্স ভিডিও হট

ओपन ओपन बीएफ कभी दबाता तो कभी चाट लेता…मामी चुपचाप मुझे देख रही थीं। मैंने नज़र उठा कर मामी की तरफ देखा, उसके चेहरे पर कोई भाव नहीं थे.

ब्रेस्ट में दर्द होने के क्या कारण है

मैं मानसी के पास सट कर बैठ गया और उसके बालों में ऊँगलियाँ डाल कर उसको कस कर पकड़ लिया।कामातुर होकर मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर उसको बेहिसाब चूमने लगा।ऐसा करने से एक अलग ही नशा छा जाता है और सामने वाले को ये भी पता चल जाता है कि आज उसकी चूत.वहां फ्रेश होने के बाद वो जब बाहर आईं तो मुस्कुराते हुए फूफाजी की तरफ़ देखती रहीं।फूफाजी ने पूछा- मजा आया?तो बोलीं- बड़ा मजा आया.

ओपन ओपन बीएफ तो वो तो जैसे पागल हो गई और जोर-जोर से आवाज़ निकाल कर चुदने लगी और साथ में ही अपनी चूची मेरे मुँह में लगा कर बोली- इस भी चूसो और काटो.

सेक्सी हिंदी में सेक्सी पिक्चर

anupama का अर्थपूरा माल उसके मुँह में ही छोड़ दिया। वो पूरा माल गटक गई।मेरी ऊर्जा ख़त्म हो रही थी।मैं बादाम किसमिस घर से ही ले गया था.

फिर करीब 20 मिनट कर मैं उसको पोज़ बदल-बदल कर चोदता रहा और वो चुदवाती रही।जब हम अलग हुए तो मैंने उससे पूछा- दुबारा कब मिलोगी?तो उसने मुझे बताया- शाम को मेरे पति वापस आ जाएंगे और कल दोपहर की ट्रेन से हम लोग दिल्ली चले जायेंगे.आज मुझे सोफे पर ही चुदाई करना है।मैंने कई फिल्मों में सोफे पर चुदाई देखी है।तो वो बोली- अरे यहाँ जगह कम है। मैंने बोला- वो सब मुझ पर छोड़ दो.

बड़ा मज़ा आएगा इसे मारने में।दीपाली- अभी तो लौड़ा बाहर निकालो बाद की बाद में देख लेना और गाण्ड कैसे मारोगे.

यानि कि कुल मिला कर 18 औरतें अपने रिश्तेदारी में ही मुझे इस्तेमाल कर चुकी हैं।कुछ वक़्त बाद चाची ने अपनी 18 साल की बेटी.

मैंने अपना आपा खो दिया और उसका सर पकड़ कर लण्ड उसके मुँह में अन्दर-बाहर करने लगा।फिर हम 69 की अवस्था में आ गए।मैं उसकी चूत में पूरी जीभ डाल कर चाट रहा था और उसकी गाण्ड के छेद में ऊँगली कर रहा था।वो मेरा लण्ड चपर-चपर चूस रही थी।कुछ देर बाद पायल ने अपनी चूत का दवाब मेरे मुँह पर बढ़ा दिया और फिर एक चीख के साथ वो झड़ गई।इधर मेरा लण्ड भी अपना लावा उगलने लगा. मैं पूरा लंड धीरे से बाहर निकाल कर ज़ोर से अन्दर ठोक देता।शुरू में तो मैंने धीरे-धीरे किया… लेकिन जोश बढ़ता गया और धक्कों की रफ़्तार बढ़ती गई।धक्का लगाते समय मैं भाभी के चूतड़ों को कस के अपनी ओर खींच लेता.

mastaram शुद्ध उसके साथ मेरा जाना-अनजाना एक रिश्ता सा बन गया था।एक दिन मैं और निशा पेड़ से बेर तोड़ रहे थे।निशा ने एक ढीली सी टी-शर्ट पहनी हुई थी और वो स्टूल के ऊपर खड़ी हुई थी और मैं नीचे खड़ा था।मैं नीचे से उसे बेर दिखाता और वो बेर तोड़ लेती।तभी मेरी नज़र निशा की टी-शर्ट के अन्दर गई.

आल सेक्स वीडियो

ओपन ओपन बीएफ: दर्द पूरी तरह मिट जाएगा।तीन पैग के बाद वो मस्त होने लगी।वो उठ कर रूपा को चूमने लगी और फिर उसकी चूत चाटने लगी।रूपा ने भी नीलम की चूत को खूब चाटा और चूसा।इस बीच नीलम फिर एक बार झड़ गई.ससस्स चोदो आह्ह… अई कककक ज़ोर-ज़ोर से आह्ह… चोदो मज़ा आ रहा है मेरे लौड़ूमल आह्ह… मज़ा आ रहा है।विकास पर अब जुनून सवार हो गया वो सटासट लौड़ा पेलने लगा। अब उसकी रफ्तार बढ़ गई थी.