गुजराती बीएफ सेक्स

Image source,शायरी वीडियो बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

चालू चुदाई: गुजराती बीएफ सेक्स, लेकिन हम दोनों ने वादा किया है कि एक-दूसरे की ख़ुशी के लिए कुछ भी करेंगे।’यह सुन कर उसने नज़रें झुका लीं। वो खामोश रही.

सेक्सी बीएफ कार्टून की

मैं नानुकर करने लगा।तो डॉक्टर ने कहा- तुम तो लड़कियों की तरह शर्म रहे हो।यह बात मुझे चुभ गई और मैंने लेटे-लेटे अपना पैन्ट खोला और अंडरवियर को थोड़ा सा नीचे कर दिया।दोस्तो, मैं दूसरों की तरह ज्यादा फेंका-फेंकी तो नहीं करूँगा. एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ चलने वालासरोज उसे भूखी शेरनी की तरह बेदर्दी से नोच कर खा रही थी।मैंने सोचा अगर औरतें ऐसे आपस में चुदवाने लगीं.

जो मैं अपने सीने पर महसूस कर पा रहा था।फिर मैंने अपने होंठों को उसके काँपते हुए होंठों पर रख दिए और हम दोनों एक-दूसरे की बाँहों में और होंठों में खो गए।धीरे धीरे अचानक से ही उसके हाथ मेरी गांड पर रेंग रहे थे और मैंने भी पाया कि मेरे हाथ उसकी पीठ, कमर, और उसकी गांड को सहला रहे हैं और वो नीचे से अपनी चूत वाले भाग को ज़ोर लगा कर मेरे लंड पर दबा रही थी।तभी हम दोनों एक झटके से बिस्तर पर गिर पड़े. इंग्लिश पिक्चर का बीएफमैं अपनी पीठ के बल लेट गया। रोहित ने मेरी गांड के छेद में तेल लगाया और थोड़ा तेल खुद के लंड पर लगाया। फिर उसने अपने लंड का सुपारा मेरी गांड के छेद पर रखा.

या अन्दर भी हाथ डालेगा।मैं- जरूर दीदी।अब मैंने दीदी की पैन्टी के अन्दर हाथ डाल दिया। दीदी की चूत बिल्कुल साफ़ थी.गुजराती बीएफ सेक्स: जो उसके मन में एक कामेच्छा को जन्म देती है।वो कुछ देर तक उस चित्र को बड़ी बारीकी से देखती रही और उस चित्र में लड़की को प्राप्त होने वाले आनन्द को महसूस करने की कोशिश करने लगी। फिर वो खुद भी इसी आनन्द को प्राप्त करने की सोच में अपनी उंगलियों को अपनी गर्दन पर ले जाती है और अपनी उंगलियों से अपनी गर्दन को छूती है। उसकी ये छुअन उसके मन को एक छोटा सा.

तुम करते रहो।मैं ज़ोर-ज़ोर के धक्के लगाता रहा और हम दोनों एक साथ ही झड़ गए। उसने मुझे बांहों में भर लिया और कहा- आज आपने मुझे औरत बना दिया।वो जब उठने लगी.वहाँ तो पहले से ही बहुत लड़कियाँ थीं।मुझे जीजू ने देखा और ऐसे खुश हुए जैसे वो मेरे लिए ही बेताब थे।मैं अन्दर गई और सबके साथ हँसी-मजाक करने लगी। धीरे-धीरे सब जाने लगे, मैंने भी साक्षी को बोला- यार अब मैं भी चलती हूँ।साक्षी बोली- तू रूक यार.

इंडियन सेक्सी गर्ल्स बीएफ - गुजराती बीएफ सेक्स

पर मैं चोरी छुपे चला गया।उसने भी मॉम को नहीं बताया कि मैं घर आया हूँ।हम दोनों ने पहले भी बहुत बार सेक्स किया है.मैं मुस्कुरा दिया।मैडम मेरे पास आईं और बोलीं- क्या कभी किसी लड़की को किस किया है?मैंने कहा- हाँ किया है।बोलीं- किसे?मैंने कहा- जब मैं कॉलेज में था तब एक क्लासमेट को किस किया था।यह कहते वक्त मेरी नज़र मैडम के मम्मों पर थी, मेरा मन कर रहा था कि अभी इनके मम्मों को पकड़ कर सारा का सारा दूध पी लूँ।फिर मैडम ने पूछा- तुम ड्रिंक करते हो?मैंने कह दिया- हाँ करता हूँ।मैडम ने एक पैग बना कर दिया.

न ही जोर में कोई कमी आने दी।बबिता जी अपनी कमर को घुमाने लगीं और ‘ह्म्म्म.गुजराती बीएफ सेक्स अब वे मेरे पेट पर किस करते हुए, मेरे मम्मों को दबा दबा कर मदहोश हो गए थे.

अब एक मेरा काम करो।मैंने सोचा अब यह चोदने के लिए बोलेगी परन्तु वो ये क्या वो कहने लगी- सालों, तुम्हारे लंड खाली होने के बाद अब लौड़ों से पेशाब नहीं आता क्या?अमन बोला- अरे कर रहा हूँ न भोसड़ी की.

बीएफ पिक्चर सेक्सी एक्स एक्स?

गुजराती बीएफ सेक्स तो मैं उठ कर बैठ गई।मेरे ठीक सामने बबिता, रामावतार जी और रमा जी थे।वो नजारा सच में बहुत ही उत्तेजक था।रमा कुर्सी पर हाथ रख कर आगे की ओर झुकी हुई थी और रामावतार जी उसके चूतड़ों को पकड़ कर अपने लिंग को रमा जी की योनि में घुसाए हुए जोर-जोर से प्रहार किए जा रहे थे। वहीं बबिता बार-बार रामावतार जी के पीछे खड़ी होकर उनके बदन को चूम रही थी.

भाभी का बीएफ हिंदी?देहाती औरतों का सेक्स

गुजराती बीएफ सेक्स जब मेरी पढ़ाई चल रही थी, मेरा भाई मुझको मेरे बाईक से कॉलेज पहुंचाने जाया करता था। मेरा कोई ब्वॉयफ्रेंड नहीं था.

सेक्सी वीडियो बीएफ भेजिए बीएफ

तुमने आज अपनी चूत के अन्दर झड़वा कर मुझे अपना पति बना लिया है तो अब तुमको अपनी बीवी बना कर ही रखूँगा मेरी जानेमन।दोनों फिर से डीप स्मूच करने लग गए और चिपटे हुए लेटे रहे।नेहा बोली- तुम्हारे लंड का पानी बह रहा है.फिर लेना।मैंने कहा- यार ये क्या तरीका है।तो बोली- सो जाओ और मुझको भी सोने दो।मैं समझ गया कि ये ऐसे नहीं देगी।बोली- जाओ, तेल उठा कर लाओ।मैं तेल उठा कर लाया, फिर उसके पैरों की मालिश करनी शुरू की।बोली- थोड़ा दम से करो न.

गुजराती बीएफ सेक्स ?अब सविता भाभी ने तरुण को सोफे पर धकेल दिया था और उसकी गोद में अपने दोनों पैर डाल कर बैठ गई थीं।तरुण- भाभी.

आसाराम बापू का बीएफ

सेक्सी बीएफ हिंदी में पंजाबी’पर मुझे तो हवस चढ़ चुकी थी, मैं नहीं माना और उसे किस करने लगा।थोड़ी देर बाद जब वो शांत हुई तो मुझे मेरे लंड पर कुछ गरम-गरम सा महसूस हुआ.

आशा है कि आपको मेरी हिंदी सेक्स स्टोरी पसन्द आएगी।अब मैं कॉलेज की पढ़ाई के लिए तैयारी कर रही थी, कॉलेज जाने तक मुझमें बहुत बदलाव हो चुका था। मेरे चूचे बड़े हो गए थे और मेरी चुत की आग बहुत बढ़ गई थी।मुझे कॉलेज के लिए अपने चाचा के घर शिफ्ट होना पड़ा क्योंकि वहाँ से मेरा कॉलेज नज़दीक था।मेरे चाचा दिखने में थोड़े मोटे हैं, वे जब भी हमारे घर आते हैं.क्या रोहित जी सही कह रहे हैं?तो कविता थोड़ी शर्मा गई।मैंने उसकी शर्म को दूर करते हुए उससे कहा- अरे फोन पर तो बहुत बेबाक होकर चुद भी जाती हो कविता.

तो फिर मैंने उसकी चूत को गीला किया और मैं उसके ऊपर चढ़ गया। उसने फिर से मेरे लंड को पकड़ कर चूत के छेद पर रखा।मैंने धीरे-धीरे धक्का दिया और मेरा लंड चूत में घुसने लगा। उसने मुझे कसके पकड़ लिया और आँखें बंद कर लीं।उसे अभी भी दर्द हो रहा था.

हम दोनों ही घर में अकेले बचे थे।दोपहर को आंटी घर आईं और बोलीं- मैं बाल्टी लेकर नहाने जा रही हूँ.

दोस्तो, मेरा नाम समर है और मैं 24 साल का हूँ। मेरा रंग सांवला जरूर है. जिसमें उन्होंने भी मेरा पूरा साथ दिया।पहले उनका कुर्ता अलग किया। वो काली नेट वाली ब्रा में खूबसूरत दिख रही थीं। मैं उनके माथे से चूमता हुआ नीचे की ओर जाने लगा।क्रमश: उनकी आँखें, गाल, कान की बूट, गला, कंधे पे, बाजुओं पर, उनकी बगलों में.

बीएफ इंग्लिश सेक्सी सेक्सी मैं खुशी से उछल पड़ी और भाई के गले लग गई उसमें एक सेलफोन था। पीछे से अब्बू ने कहा- आरू तेरे भाई ने ये अपनी पॉकेट मनी से लाया है।मैं खुशी से पागल हो उठी थी।भाई ने उस मोबाइल में नई सिम वगैरह सब डाल रखा था। थोड़ी देर बाद सब अपने-अपने कमरों में चले गए और मैं भी शुभम से लिया हुआ गिफ्ट खोलने लगी।सबसे पहले उसमें से एक कार्ड निकला और साथ में एक लेटर नोट भी था। कार्ड को देखने के बाद मैंने जब नोट खोला.

चुदाई की बीएफ मूवी

गुजराती बीएफ सेक्स: क्या मलाई माल था। मेरा दिल तो कर रहा था कि साली का गिरता लावा जीभ में लेकर चाट लूँ, परन्तु इस वक्त मैं कविता को मज़ा देना चाहता था। वैसे तो हम दोनों भी झड़ने के करीब थे, परन्तु जैसे ही कविता का झड़ना ख़त्म हुआ तो मैंने कविता को ढीला किया और रोहित को इशारा किया।अब हमने कविता को घूमने के लिए कहा.साली क्या मस्त लंड चूसती थी।फिर मैं उसके मुँह में से लंड निकाल कर उसकी चूत में डालने लगा, जैसा ही थोड़ा सा लंड चूत के अन्दर गया।वो थोड़ा चीखी और बोली- प्लीज़ थोड़ा धीरे चोदना.