बीएफ पिक्चर दिवाली

Image source,बंगला सेक्सी बंगला

तस्वीर का शीर्षक ,

देवर ने भाभी: बीएफ पिक्चर दिवाली, कितना लम्बा और मोटा है। मुझे एक साल के बाद लंड के दीदार हुए हैं।आंटी उठ कर बैठ गईं और उन्होंने मुझे लिटा दिया और मेरे लंड पर हाथ फेरने लगीं। जैसे ही आंटी का हाथ मेरे लंड पर लगा.

बहू और ससुर के बीएफ

लेकिन साथ में वो खुश भी हो रही थी क्योंकि उसको लगा उसने पूरा लंड अन्दर ले लिया है।थोड़ी देर chhoTe chhoTe धक्के मारने के बाद मैंने फिर से ज़ोरदार धक्का मारा। वो इसके लिए बिल्कुल तैयार नहीं थी. ब्लू पिक्चर फिल्म दीजिएतुम आँख बंद करके सीधे अन्दर आ जाओ।उसने ऐसा ही किया। वो आँख बंद किए हुए आया और बिस्तर पर बैठ गया।मैं बाथरूम में गई.

पिछली चुदाई के लिए वो साफ़ मुकर गई।मैंने कहा- मैं चाहता हूँ कबीर मेरे सामने तुमको चोदे।बोली- तुम पागल हो क्या?मैं उसके पीछे पड़ गया तो बोली- ठीक है अब जब जाएंगे. पंजाबी देसी भाभीवो तो कभी छूते भी नहीं।कुछ ही देर की चूत चटाई में भाभी ने अपना रस मेरे मुँह में छोड़ दिया।‘क्या मस्त मलाई है भाभी.

अब लास्ट गेम खेलें?भाभी मेरी ओर देखने लगीं, बोलीं- अब मेरे पास खेलने को बचा ही क्या है?मैं मुस्कुराया और बोला- अरे मेरी प्यारी भाभी.बीएफ पिक्चर दिवाली: आ जाओ भाभी जल्दी से ले लो ना।मैंने भाभी को टेबल पर बैठा कर उनकी दोनों टाँगें पूरी तरह से खोल कर हवा में उठा दीं। सरला भाभी ने झट से लंड का टोपा अपनी चूत पर रगड़ कर गीला किया और अन्दर घुसा कर अपने दोनों हाथ पीछे टिका लिए।‘आह हाय राम रे.

तो मुझे लगा कि अब मम्मी पापा का चुदाई का कार्यक्रम शुरू होने वाला है।मैं बिस्तर पर लेटे हुए सोच रही थी कि आज़ फिर उनकी चुदाई देखना चाहिए। मैं उठ कर फर्स्ट फ्लोर की खुली छत पर टहलने लगी।थोड़ी देर में मुझे उनके रूम में से कुछ धीमी आवाजें सुनाई देने लगीं तो मैं दबे पाँव सीढ़ियों में आ गई और ग्राउंड फ्लोर के रोशनदान जो कि सीढ़ियों के बिल्कुल पास बना है.मुझे बहुत मज़ा आया है। अब तो आपकी इस मस्तानी चुदासी गीली-गीली चूत में लंड फिर से घुसाने का मन हो रहा है।‘हाय राम.

ब्लू सेक्सी हिंदी सेक्स - बीएफ पिक्चर दिवाली

तो उसने दरवाज़ा खोल दिया और बोली- आप इतनी रात को?मैंने कहा- मैं बोर हो रहा था.बस खुश रहो, तुम्हारी स्माइल उस इंसान को सबसे बड़ा जवाब होगी।उसे मेरी बात कुछ समझ आई.

’ की मादक आवाजें निकलने लगीं।इतने मैं वो ऊपर उठा, अब वो मेरे ऊपर था और मैं नीचे थी और मेरे मम्मों को चूसने लगा.बीएफ पिक्चर दिवाली फिर बाहर निकालती और पूरे हाथ को अपने मुँह में दिए जा रही थी।इस तरह मैंने वो चूत का मेरा नमकीन रस पूरा चाट लिया।मैं अब अपने आपको बहुत हल्का महसूस कर रही थी.

पूरी मादरचोद है साली!यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!माया ने प्रश्नसूचक निगाहों से मेरी तरफ देखा।मैं- यार, कोई मुझसे भी तो पूछो? मैं कोई बाँट कर खाने वाली चीज़ हूँ, जो आपस में मेरा बंटवारा कर रही हो?‘हम्म.

sunny लियोनी hot?

बीएफ पिक्चर दिवाली बाहर और भी पेशेंट्स बैठे होंगे।फिर उसने धीरे से थोड़ा परदा हटा कर देखा तो बाहर 2 औरतें बैठी थीं.

बीएफ ब्लू फिल्म चुदाई वाली?सोते हुए दिखाओ

बीएफ पिक्चर दिवाली पर काफी दर्द हुआ होगा। मुझे संदेह हुआ कि वो पहले भी चुदी होगी, पर इन सब बातों को सोच कर अपना मूड ख़राब नहीं करना चाहता था।उसकी चूत से खून तो निकला.

भाभी का सेक्सी एचडी

पर इधर उसकी क्या चिंता करना।चुदाई चीज़ ही ऐसी है कि इसके आगे न कुछ दिखाई देता है.कभी मेरे गालों पर हाथ फेर देते।ऐसा वे बार-बार करने लगे।मैंने अपना हाथ अपने पीछे करके सर के पैन्ट के ऊपर सामने रखा, वे चौंक गए पहले उंगलियों से गुदगुदाया.

बीएफ पिक्चर दिवाली लेकिन डॉली ने तो बिना देर किए उसे फाड़ ही डाला और उतार कर फेंक दिया।मैंने भी अपने पैरों की मदद से जींस भी निकाल दी और कुर्सी पर रख दी।अब वो दोनों थोड़ा नीचे को हुईं.

एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीपी

गुजराती बीएफ गुजराती बीएफ गुजराती बीएफआज मूड भी है और मौका भी है।मैं बोली- यार तुम समझ क्यों नहीं रहे हो।वह थोड़े गुस्से में बोला- ठीक है.

तो कुछ देर बाद मैंने अपना वही हाथ उठाकर उसके कंधे में ऐसे रखा कि मेरी हथेली उसके बड़े स्तन के पास लटकने लगे।बस उसकी थोड़ी सी हरकत होने से अब मेरी पूरी हथेली उसके चूचे को पूरी तरह से ढके हुई थी। मेरा हाथ उसके स्तन में होने के बाद भी वो कुछ नहीं कह रही थी.तो सच में खींच ही लेती।ऐसे बातें करते हम सभी हँसी-मज़ाक कर रहे थे।मैं- अब अगला प्लान बताओ क्या है?अमन- एक राउंड और हो जाए?संजय- नहीं थोड़ा रुक कर राउंड लें तो अच्छा है.

’कुछ ही देर में उसके लौड़े के मेरी चूत में अन्दर-बाहर होने की आवाजें भी आने लगी थीं ‘ठप्प.

जैसे वो और भी धक्कों के लगने का इन्तजार कर रही हैं।मुझे दूर से ऐसा लग रहा था जैसे रामावतार जी का लिंग रमा जी के बड़े और मांसल चूतड़ों के बीच फंस गया हो। उन्होंने कुछ पल तो यूँ ही प्यार किया फ़िर वो अलग हो गए। मुझे लगा कि वो दोनों अपनी अवस्था बदलना चाह रहे हों।रमा जी ने नीचे लेटी हुई सम्भोग में लीन बबिता को झुक कर कहा- बस भी करो बबिता जी.

नई कहानी लिखने के लिए लगातार मिल रहे थे।आप सभी लोग तो जानते हैं कि मैं केवल सच्ची घटना लिखती हूँ। तो मैं आप लोगों के लिए एकदम नई घटना लेकर आई हूँ. जो कि शॉर्ट्स में तना हुआ था।तब मैंने देखा कि वो मुझे गौर से देख रही है। मैंने हल्की खुली आँखों से उसको देखना जारी रखा। वो थोड़ी देर वहीं खड़ी रही.

सेक्सी पिक्चर चोदने वाला बीएफ सिर्फ वो ही मुझसे छुपे हुए थे।अब मुझे लगा कि मुझसे रहा नहीं जाएगा। मैं उसे बेडरूम ले आया था, उसे सहारा देते हुए बिठाया, उसके पैर में काफी दर्द था।मैंने उसे कहा- मूव है तो दो.

સુહાગ રાત કેવી રીતે બનાવાય

बीएफ पिक्चर दिवाली: आप तो अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पढ़ते हैं, सब जानते हैं।अब मैंने धीरे-धीरे अपनी कमर को चलाना शुरू किया और मैं लगातार एक हाथ से सुहाना के मम्मे दबाए जा रहा था और दूसरे हाथ से सुहाना की बुर सहला रहा था।कुछ देर बाद सुहाना अपनी गांड हिला-हिला कर मेरा लंड बड़े मजे से ले रही थी। मैंने अब अपने धक्कों की रफ़्तार बढ़ा दी और सुहाना के लबों से आनन्द से भरी सीत्कार निकल पड़ी ‘हाआआअ.और फिर उसके मम्मों को बारी-बारी से अपने मुँह में दबा कर चूसने लगा।प्रिया एकदम उत्तेजित होने लगी और बोली- राहुल यह क्या कर रहे हो.