बीएफ पिक्चर एक्स एक्स

Image source,स्टैमिना क्या होता है

तस्वीर का शीर्षक ,

ஆண்ட்டி ஹாட்: बीएफ पिक्चर एक्स एक्स, वे सभी लोग रात में मामा के घर ही रूक गए।अब समस्या यह थी कि इतने सारे लोगों को सुलाया कहाँ जाए।फिर घर में महिलाओं की संख्या भी काफी थी। यह सोच कर तय हुआ कि गर्मी का दिन है ही.

पोकेमोन क्सक्सक्स

सुधीर ने चूत को इतनी बुरी तरह से चूसना शुरू कर दिया कि दीपाली लौड़ा चूसना भूल गई और सिसकने लगी।दीपाली- आआह्ह. भोजपुरीहोलीगानावो बात तो सही है।वो एकदम से मुझे चिपक गई और उसके बड़े-बड़े मम्मे अब मेरी पीठ पर दबने लगे।मैं भी उसके पपीतों की मुलायमियत से थोड़ा गर्म हो गया।मुझे भी उसकी यह हरकत देख कर मज़ा आ रहा था।फिर अचानक उसने कहा- अपनी बाइक को रोको।मैंने अपनी बाइक रोक दी और पूछा- क्या हुआ? क्या वापस ले लूँ.

ये तुम्हारे ही हैं।उसने ब्रा का हुक खोल दिया और दूध के दो बड़े-बड़े कटोरे मानो आज़ाद हो गए।मैं उनको चूस-चूस कर खाली करने लगा और वो मादक ‘आहें’ भरने लगी।मैं एक हाथ से उसकी एक चूची रगड़ रहा था और दूसरी चूची चूस रहा था।फिर मैंने अपना एक हाथ उसके बरमूडे में डाल दिया. सिर्फ सेक्सीअन्दर ऐसा क्या कर रहे थे? कहीं दीपाली के नाम की मुठ तो नहीं मार रहे थे ना हा हा हा हा हा…विकास- अरे मुठ मारें मेरे दुश्मन.

मुझे घर भी जाना है वरना मम्मी गुस्सा हो जाएगी।दीपाली ने अपने कपड़े पहने और वहाँ से निकल गई।इसके आगे क्या हुआ जानने के लिए पढ़ते रहिए और आनन्द लेते रहिए।मुझे आप अपने विचार यहाँ मेल करें।[emailprotected].बीएफ पिक्चर एक्स एक्स: उसने कहा- अगर तुम मेरे सिवाय किसी के बारे में भी नहीं सोचोगे तो मैं तुम्हें सब कुछ दूँगी।फिर इतना कहते ही मैंने उस अपनी बाँहों में जकड़ लिया.

एकदम गोरी चूत में लाल रंग की फाँकें मुझे और उत्तेजित करे जा रही थीं।मैंने धीरे-धीरे उनकी चूत चाटना जारी रखा।आंटी की भी नशे में धीरे-धीरे ‘आहें’ निकालने लगीं।मैं फिर भी चाट रहा था.मैंने भी अब मेरी रफ़्तार बढ़ा दी।मैं जोर-जोर से धक्के मारने लगा।चूत ओर लंड में जो प्यारी सी लड़ाई छिड़ी हुई थी.

यूपी वीडियो सेक्स - बीएफ पिक्चर एक्स एक्स

अंदर पहुँच कर मैं शांत रहने की कोशिश कर रही थी, मेरे काले, घने खुले बाल मेरे नंगे कंधों पर झूल रहे थे और बार बार मेरी चूचियों के ऊपर आकर मुझे और भी रोमांचित कर रहे थे.मैं थोड़ा लड़खड़ाते कदमों से अन्दर आया।अन्दर मैंने देखा रिंकी शायद बियर पी रही थी।घर पर और कोई दिख नहीं रहा था.

3-4 मिनट बाद मेरा पूरा शरीर कांपने लगा और मेरी चूत से ढेर सा मूत बाहर आया।मेरी टाँगें जोर से कांप रही थीं और मैं नीचे गिर गई और अभी भी चूत से मूत निकल रहा था।मेरी हालत बहुत खराब हो गई थी।उसने अपना लंड मेरे मुँह में डाला और चोदने लगा।करीब 5 मिनट तक उसने ऐसे ही मुझे चोदा।फिर उसने बोला- आज मैं.बीएफ पिक्चर एक्स एक्स 30 बजे उसके घर पहुँचा।वो तो जैसे मेरा इन्तजार ही कर रही थी और तैयार ही थी।उसने दरवाजा खोला, मैं अन्दर आ गया।आज मैं उसे देखता ही रह गया वो गोरे-गोरे जिस्म पर सिर्फ लाल रंग की ब्रा और पैन्टी में खड़ी मेरा इन्तजार कर रही थी।मैं तो एकदम से उस पर टूट पड़ा उसको बुरी तरह से चूमने और चाटने लगा।उसने खुद ब्रा का हुक खोल दिया और पैन्टी भी निकाल कर फेंक दी।अब मैं उसके मम्मों को हाथ में लेकर मसल रहा था.

तब मैंने फिर से कंडोम पहना और फिर उसकी चूत में लौड़ा पेल दिया और पीछे से चोदने लगा। सटासट चुदाई चालू हो गई।फिर वो कहने लगी- आह्ह.

डॉन्की सेक्स वीडियो?

बीएफ पिक्चर एक्स एक्स क्योंकि उसने सोचा ही नहीं था कि इतनी जल्दी ये हो जाएगा।वो बस सोच ही रहा था कि इसको कहूँ एक बार मुँह में लो मज़ा आएगा.

अहमदाबाद टू गोवा?शैतानी सेक्सी बीएफ

बीएफ पिक्चर एक्स एक्स बड़ा मज़ा आएगा आज तो…अनुजा ने बगल में रखी दो काली पट्टी उठाईं और दीपाली को दिखाते हुए बोली।अनुजा- मज़ा ऐसे नहीं आएगा.

पाकिस्तानी सेक्सी ब्लू पिक्चर

जिसकी वजह से आज तक मेरी और रानी की मुलाकात नहीं हो पाई है।मगर आज भी रानी मेरी जबरदस्त चुदाई की कायल है।तो दोस्तो, आप लोगों को मेरी यह सच्ची दास्तान कैसी लगी जरूर बताइएगा… मुझे आप लोगों के मेल का इंतजार रहेगा.कि क्या हो रहा है।कुछ देर में मुझे महसूस हुआ कि सलीम ने मेरी सलवार निकाल दी है और कमीज़ भी उतार फेंका।वैसे ही मुझे नीचे लिटाया और मेरे ऊपर आकर एक जानवर जैसे मुझे दबोचने लगा।मैंने उससे कहा- प्लीज़ धीरे करो.

बीएफ पिक्चर एक्स एक्स कुछ लोगों ने कहानी की वास्तविकता पर सवाल खड़े किए…जिस पर मेरी सोच यह है कि कहानियों को सच मानना न मानना आप पर निर्भर है।दरअसल घटनाएँ सभी के जीवन में होती हैं और एक लेखक को पाठकों की संतुष्टि के लिए घटना को कहानी के रूप में ढालने के लिए उसमें कुछ संवाद आदि लिखने पड़ते हैं.

टाइम बढ़ाने वाले कंडोम

छम छम गानामैं उठने लगा तो वो बोली- मुझे छोड़ के मत जाओ, मुझे अपनी बाहों में ही रहने दो।और उसने मुझे और ज़ोर से पकड़ लिया और चुम्बन करने लगी.

इस बार मैंने ज़ोर-ज़ोर से धक्के लगाना शुरू कर दिए… दस मिनट तक चोदने के बाद वो और मैं एक साथ झड़ गए।मैं उसके ऊपर ही लेटा रहा और हम दोनों थोड़े वक्त तक एक-दूसरे से चिपक कर पलंग पर लेटे रहे।फिर हम दोनों एक साथ नहाने चले गए। नहा कर हमने एक-दूसरे को पोंछा और कपड़े पहन कर वो अपने घर चली गई।उसके कूल्हे भी बड़े मस्त हैं.कभी मैं उसको कुतिया की तरह चोदता तो कभी टांग ऊँची करवा के चोदता।उस रात वो करीब 6 बार झड़ी और मैं चार बार स्खलित हुआ। हमारा ये कार्यक्रम 4 दिन तक रोज चलता रहा, आज भी वो मुझे मज़े लेने के लिए बुलाती है।यह मेरी पहली कहानी थी, सब अपनी राय मुझे जरूर बताना।आपका मेरी मौसी की चुदाई की कहानी को पढ़ने का धन्यवाद।[emailprotected].

मैं जल्दी से जल्दी रूम में पहुँच कर साक्षी को चोदना चाहता था।दोस्तो, इसके बाद क्या हुआ, मैं अगले भाग में बताता हूँ.

अब कल चुदाई करेंगे…मैं- ओके मम्मी…अब मैं तुम्हें कल चोदूँगा।मैम- ओके बेटा।मैं- बाय मम्मी।मैम- बाय बेटा।आपके प्यारे कमेंट्स के लिए मुझे ईमेल करें।यह मदमस्त कहानी जारी है।.

मेरी उम्र 25 साल है। मेरी शादी को अभी कुल 3 साल हुए हैं। शादी से पहले मैं एक छोटे से गाँव में रहती थी। शादी के बाद अहमदाबाद अपने शौहर के साथ रहने आई। यह अपनी सच्ची कहानी आपके सामने रख रही हूँ।कहानी लिखने में मेरा साथ देने वाले मेरे रियल हीरो आनन्द के साथ की मेरी चुदाई की यह सच्ची कहानी है।मेरे Cuckold शौहर सलीम को threesome का जो भूत चढ़ा था उसका नतीजा सलीम जो भी भुगत रहा हो. दीपाली भी थी, उसका भी बॉयफ्रेंड था, तब भी वी मेरे साथ सोई।दीपाली की कहानी कभी और, साक्षी का भी बॉयफ्रेंड है, वो भी मुझसे चुदने जा रही है.

मेहंदी का रंग काला कैसे करे वो मुझसे हमेशा ज़्यादा चुदाई की मांग करती रहती है।उसकी चूत भी हमेशा रस से भरी रहती है।मेरा घर एक बहुमन्जिली इमारत में है, जिसमें और भी कई लोग रहते हैं। हमारे फ्लैट के सामने एक फैमिली रहती है जिसमें दो शादीशुदा जोड़े रहते हैं उनका नाम राज और सोनिया है। उनका अक्सर हमारे घर आना-जाना होता रहता है और उसकी बीवी मुझे लाइन मारती है, वो बहुत ही मस्त माल है।कभी-कभी मैं भी उसको आँख मार देता हूँ, पर क्या करें.

सेक्सी फिल्म वीडियो गाने

बीएफ पिक्चर एक्स एक्स: उसका पूरा लण्ड मेरी गाण्ड में फंस चुका था।इधर मैं रो रहा था और मैं धीरे-धीरे मेरी गाण्ड को सहला रहा था.और ज़ोर से चोद…यह सुनते ही उसने अपनी गति बढ़ा दी और ज़ोर-ज़ोर से धक्के मारने लगा।मैं तो जैसे स्वर्ग में ही पहुँच गया था.